Sad Shayari

Sad Shayari

sad shayari

अभी सूरज हुआ नही जरा-सी शाम तो होने दो
मै खुद लौट जाऊंगा जरा नाकाम तो होने दो
मुझे बदनाम करने का बहाना ढूढना है जमाना
मै खुद हो जाऊँगा बदनाम पहले मेरा नाम तो
होनेदो

sad shayari

Sad Shayari
हर कर्ज मोहब्बत का अदा करेगा कौन,
जब हम नहीं होंगे तो वफ़ा करेगा कौन,
या रब मेरे मेहबूब को रखना तू सलामत,
वर्ना मेरे जीने की दुआ करेगा कौन?

sad shayari

हम ने कब माँगा है तुम से
अपनी वफ़ाओं का सिला,
बस दर्द देते रहा करो मोहब्बत बढ़ती
जाएगी

sad shayari

Sad Shayari
मंजिले मुशिकले थी पर हम खोये नही थें.
दर्द था दिल मे पर रोये नही थे,
कोई नही आज हमारा जो हमसे पुछे
जाग रहे हो या किसी के लिये सोये नही

sad shayari

मैं इस काबिल तो नहीं की कोई मुझे
अपना समझे मगर इतना यकीन है कि
कोई अफसोस जरूर करेगा मुझे खो
देने के बाद

sad shayari

Sad Shayari
चलो फिर से दोहराते हैं अपनी
मोहब्बत कि कहानीमै तुम्हे बेपनाह
चाहुगा और तुममुझे बे वजह छोड
जाना

sad shayari

तकलीफ ये नही की किस्मत ने
मुझे धोखा दिया, मेरा यकीन तुम
पर था किस्मत पर नही

sad shayari

Sad Shayari
कौन हूँ मैं….
ऐ जिंदगी तू ही बता,
थक गया हूँ मैं खुद का पता ढूँढते ढूंढ़ते

sad shayari

मोहब्त सब ने देखी है किसी ने फल नही देखा
बिगड़ जाते है जिस पल मे बो आता पल नही
देखा गुजर गई रात महलो मे जमी पर पल नही
देख सभी ने आज देखी है मगर किसी ने कल
नही देखा

sad shayari

Sad Shayari
हमने भी किसी से प्यार किया था।
राहो में बैठ कर इंतजार किया था ।।
गलती उसकी नही थी गलती मेरी थी
की जो एक बेवफा से प्यार किया था।।

Previous page 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22 23 24 25 26 27 28 29 30 31

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button