Sad Shayari

Sad Shayari

sad shayari
कोई बताएगा कैसे दफनाते है वो खवाब जो दिल मैं ही मर जाते है
sad shayari
दर्द जितना था जिंदगी में की धड़कन साथ देने से घबरा गई आंख बंद थी किसी की याद में और मौत तो धोखा खा गयी
sad shayari
जब मिलो किसी से तो जरा दूर का रिश्ता रखनाबहुत तड़पते हैं अक्सर दिल से लगाने बा

ले

sad shayari
पतझड़ में पत्ते गिरते हैं उठाता और कोई नहीं,पतझड़ में पत्ते गिरते हैं उठाता और कोई नहीं,प्यार तो सब करते हैं निभाता और कोई नहीं
sad shayari
बहुत रुलाई वो बेवफा और कितना रुलावगी,जिस दिन हम रूठे ना बहुत पस्तावोगी
sad shayari
इश्क ओर दोस्ती मेरे दो जहान है,इश्क मेरी रुह, तो दोस्ती मेरा ईमान है,इश्क पर तो फिदा करदु अपनी पुरी जिंदगी,पर दोस्ती पर, मेरा इश्क भी कुर्बान

है

sad shayari
किसी ने कहा था किसी से ना कहना लगे चोट दिल पर जो खामोश ही रहना सुनेगा जो तुम पर हंसेगा का जमाना
sad shayari
हमने भी किसी से प्यार किया था।राहो में बैठ कर इंतजार किया था ।।गलती उसकी नही थी गलती मेरी थी की जो एक बेवफा से प्यार किया था

।।

sad shayari
मेने तो अपने होंठों की हर खुशी उसके नाम कर दि थी, मैंने तो अपने हिस्से की जमीन उसके लिए नीलाम करदी थी,क्या दे गई बेवफा मुझे जाते-जाते,मैंने तो अपनी जिंदगी उसके नाम करदी थी
sad shayari
तुम क्या जानो प्यार किसी का तुम्हें तो खेलना आता है किसी के जजबातो के साथ । घुट घुट कर तो हम मर रहे यहं जिसने कसम खाई थी तुम्हें पाने की अरमानो के साथ
sad shayari
वक़्त ने हमें भुला दिया है,कहीं मुकद्दर भी ना भुला दे। प्यार हम इसलिए नहीं करते कहीं फिर से हमें कोई ना रुला दे।
Previous page 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22 23 24 25 26 27 28 29 30 31 32Next page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button