Sad Shayari

Sad Shayari

sad shayari

Sad Shayari
हर कर्ज मोहब्बत का अदा करेगा कौन,
जब हम नहीं होंगे तो वफ़ा करेगा कौन,
या रब मेरे मेहबूब को रखना तू सलामत,
वर्ना मेरे जीने की दुआ करेगा कौन?

sad shayari

वैसे तो किसी से प्यार किया नही
वैसे तो किसी से प्यार किया नही
1 से किया 1 से किया और उसी ने धोखा
दे दिया

sad shayari

Sad Shayari
प्यार बहुतो से किया पर दिल किसी को
ना दिया
जिसको दिल दिया ऊसी ने
दिल को तोद दिया

sad shayari

कुछ तो खोया है उसने भी है मुझसे
प्यार करके ,मुझे मेरे चाहत नहीं मिली
और उसे इतना चाहने वाला

sad shayari

Sad Shayari
क़दर करलो उनकी जो तुमसे बिना
मतलब की चाहत करते हैं,दुनिया में
ख्याल रखने वाले कम और तकलीफ
देने वाले ज़्यादा होते है

sad shayari

प्यार का नजाराहमनें दुनिया में बेवफा
देखा
जिसकों दावा था वफ़ा का
उसको भी हमनें बेवफा देखा

sad shayari

Sad Shayari
खुश नसीब होते हैं वो बादल जो दूर रह कर
जमीन पर वरसते हैं,
और एक वदनसीव हम हैं जो
एक ही गली में रहकर भी मिलने को तरसते हैं

sad shayari

कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे
हम तो दरिया है समंदर में उतर जायेंगे
वो तरस जायेंगे प्यार की एक बूंद के खातिर
हम तो बादल है प्यार के किसी और पर बरस
जाएंगे

sad shayari

Sad Shayari
उसकी बाहों में सोने का अभी तक
शौक है मुझको,
मोहब्बत में उजड़ कर भी
मेरी आदत नहीं बदली।

Previous page 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22 23 24 25 26 27 28 29 30 31Next page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button