Dosti Shayari

Dosti Shayari

Shayari on Dosti in Hindi

dosti shayari

मुस्कराहट का कोई मोल नहीं होता,
कुछ रिश्तों का कोई तोल नहीं होता,
लोग तो मिल जाते है हर मोड़ पर, Dosti Shayari
हर कोई आप की तरह अनमोल नहीं होता

dosti shayari

कोशिश करो कोई आपसे ना रूठे,
जिंदगी में अपनों का साथ ना छूटे,
दोस्ती कोई भी हो उसे ऐसा निभाओ,
कि उस दोस्ती की डोर जिंदगी भर ना टूटे

dosti shayari

दोस्त ज़िन्दगी का चाँद होता है,
दिल ज़मीन का आसमान होता है, Dosti Shayari
बदनसीब वो होते हैं जिनका कोई दोस्त नहीं,
क्योंकि दोस्त तो धड़कते दिल की जान होता है

dosti shayari

जब आपकी पलकों पर रह जाये कोई,
आपकी साँसों पर नाम लिख जाये कोई,
चलो वादा रहा भूल जाना हमें
अगर हमसे अच्छा दोस्त मिल जाये कोई।

dosti shayari

वो दिल क्या जो मिलने की दुआ न करे,
तुम्हे भूल कर जियूं ये खुदा न करे,
रहे तेरी दोस्ती मेरी Dosti Shayari ज़िन्दगी बन कर,
ये बात और है ज़िन्दगी वफ़ा न करे

dosti shayari

उम्मीद ऐसी हो जो जीने को मजबूर करे,
राह ऐसी हो जो चलने को मजबूर करे,
महक कम न हो कभी अपनी दोस्ती की,
दोस्ती ऐसी हो जो मिलने को मजबूर करे

dosti shayari

उम्मीद ऐसी हो जो जीने को मजबूर करे,
राह ऐसी हो जो चलने को मजबूर करे,
महक कम न हो कभी Dosti Shayari अपनी दोस्ती की,
दोस्ती ऐसी हो जो मिलने को मजबूर करे

dosti shayari

जीने की उसने हमें नयी अदा दी है,
खुश रहने की उसने हमें दुआ दी है,
ऐ खुदा उसको खुशियाँ तमाम देना,
जिसने अपने दिल में हमें जगह दी है

dosti shayari

Dosti Shayari
रिश्तों से बड़ी चाहत और क्या होगी,
दोस्ती से बड़ी इबादत और क्या होगी,
जिसे दोस्त मिल सके कोई आप जैसा,
उसे ज़िन्दगी से शिकायत क्या होगी

गुनाह कर के सज़ा से डरते हैं,
ज़हर पी के दवा से डरतें हैं ,
दुश्मनो के सितम का खौफ नहीं हमें,
हम दोस्तों के खफा होने से डरते है

Previous page 1 2 3 4 5 6 7Next page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button