Desh Bhakti Shayari

Desh Bhakti Shayari

Best Desh Bhakti Shayari – Jab Desh Me Thi Diwali Wo Jhel Rahe The Goli Jab Ham Baithe The Gharo Me Images For Desh Bhakti Shayari Wo Khel Rahe The Holi Kya Log The Wo Abhimani Hai Dhanya Wo Unki Jawani Quotes For Desh Bhakti Shayari Khushnasib Hai Wo Jo Watan Pad Mit Jate Hai Markar Bhi Wo Log Amar Ho Jate Hai Karta Hun Unhe Salam Ye Watan Pe Mitne Walo Tumhari Har Sash Me Tirange Ka Nasib Basta Ha Desh Bhakti Shayari in Hindi Jindagi Hai Kalpnao Ki Jang Kuch To Karo Eshke Liye Dabang Jiyo Saan Se Bharo Umang Desh Bhakti Shayari WhatsApp Status Lahrao Sabse Dilo Me Desh Ke Liye Tirang

Best Desh Bhakti Shayari in Hindi

Desh Bhakti Shayari

Desh Bhakti Shayari
आन देश की, शान देश की,
इस देश की हम संतान हैं !
तीन रंगों से रंगा तिरंगा, अपनी ये पहचान है !!

Desh Bhakti Shayari

ये दुनिया एक दुल्हन ये दुनिया.
एक दुल्हन दुल्हन के माथे पे बिंदिया

Desh Bhakti Shayari

Desh Bhakti Shayari
हर रोज नया दिन, हर रोज नया पर्व है,
विविधताओं से भरे इस देश पर मुझे गर्व है।

Desh Bhakti Shayari

आजादी की कभी शाम नहीं होने देंगे
शहीदों की कुर्बानी बदनाम नहीं होने देंगे
बची हो जो एक बूंद भी लहू की
तब तक भारत माता का आँचल नीलाम नहीं होने देंगे

Desh Bhakti Shayari

Desh Bhakti Shayari
उड़ जाती है नींद ये सोचकर
कि सरहद पे दी गयीं वो कुर्बानियां
मेरी नींद के लिए थीं

Desh Bhakti Shayari

तिरंगा है आन मेरी तिरंगा ही है शान मेरी तिरंगा रहे सदा
ऊँचा हमारा तिरंगे से है धरती महान मेरी

Desh Bhakti Shayari

Desh Bhakti Shayari
मैं भारतवर्ष का हरदम अमिट सम्मान करता हूँ
यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,
तिरंगा हो कफ़न मेरा,
बस यही अरमान रखता हूँ।

Desh Bhakti Shayari

देश के लिए मर मिटना कुबूल है
हमें अखंड भारत के सपने का जूनून है हमें

Desh Bhakti Shayari

Desh Bhakti Shayari
खून से खेलेंगे होली,
अगर वतन मुश्किल में है
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है,,

Desh Bhakti Shayari

भ्रष्टाचार, बेरोजगारी जैसे पापों का जब पतन होगा,
हो जाएगा खुशहाल ये जीवन खुशहाल ये मेरा वतन होगा।

1 2 3 4 5Next page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button