2 Line Shayari

2 Line Shayari

2 Line Hindi Shayari

2 Line Shayari

2 Line Shayari
दुनियाँ में इतनी रस्में क्यों हैं,
प्यार अगर ज़िंदगी है तो इसमें कसमें क्यों हैं।

2 Line Shayari

चलो मुस्कुराने की वजह ढुंढते हैं,
तुम हमें ढुंढो, हम तुम्हे ढुंढते हैं।

2 Line Shayari


मेरी दिल की दिवार पर तस्वीर हो तेरी..
और तेरे हाथों में हो तकदीर मेरी।

2 Line Shayari

2 Line Shayari
यूँ तो आदत नहीं मुझे मुड़ के देखने की..
तुम्हें देखा तो लगा.एक बार और देख लूँ

2 Line Shayari

काश एक खवाहिश पूरी हो इबादत के बगैर
वो आ कर गले लगा ले.मेरी इजाजत के बगैर!

2 Line Shayari

मैं लब हु, मेरी बात हो तुम..
मै तब हु, जब मेरे साथ हो तुम..

2 Line Shayari

2 Line Shayari
क्यो ना गुरूर करू मै अपने आप पे
मुझे उसने चाहा जिसके चाहने वाले हजारो थे!

2 Line Shayari

क्या ऐसा नहीं हो सकता हम प्यार मांगे…
और तुम गले लगा के कहो, और कुछ।

2 Line Shayari

दिल मे छूपा रखी.. है मुहब्बत काले धन की तरह
खुलासा नही करता हू कि कही हंगामा ना हो जाये।

2 Line Shayari

2 Line Shayari
तुझे भुल जाना मुमकिन नहीं,
तु याद ना आये ऐसा कोई दिन नहीं।

Previous page 1 2 3 4 5Next page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button